गुरुवार के दिन करें ये अचूक उपाय, घर में कभी नहीं होगी धन की कमी…

0
13

गुरुवार का दिन जगत के पालनहार भगवान विष्णु को अति प्रिय है। इस दिन भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की विशेष पूजा की जाती है। साथ ही देवगुरु बृहस्पति की भी आराधना की जाती है। धार्मिक मान्यताएं हैं कि गुरुवार के दिन विष्णु जी की पूजा करने से घर में सुख, शांति और समृद्धि बनी रहती है। वहीं, करियर और कारोबार में भी ऊंचा मुकाम हासिल होता है।

Read More: सीएम साय ने दी प्रदेशवासियों को नए साल की बधाई, कही ये बात

अतः साधक गुरुवार के दिन आराध्य विष्णु जी की पूजा करते हैं। इस दिन विशेष उपाय भी किए जाते हैं। इन उपायों को करने से आय और सौभाग्य में वृद्धि होती है। आइए, उपाय जानते हैं ।

Read More: सीएम साय ने दी प्रदेशवासियों को नए साल की बधाई, कही ये बात

गुरुवार के उपाय अगर आप भगवान विष्णु का आशीर्वाद पाना चाहते हैं, तो गुरुवार के दिन स्नान-ध्यान कर आचमन करें। इसके पश्चात, पीले वस्त्र धारण कर भगवान भास्कर को सर्वप्रथम जल का अर्घ्य दें। तदोउपरांत, विधि-विधान से लक्ष्मी नारायण की पूजा करें। इस दौरान भगवान विष्णु को अष्टदल कमल अर्पित करें। इस उपाय को करने से भगवान विष्णु की कृपा साधक पर बरसती है।

Read More: सीएम साय ने दी प्रदेशवासियों को नए साल की बधाई, कही ये बात

अगर आपकी आर्थिक स्थिति अनुकूल नहीं है, तो गुरुवार के दिन पूजा के समय भगवान विष्णु को नारियल अर्पित करें। इस समय सुख, समृद्धि और धन प्राप्ति की कामना करें। इसके पश्चात, नारियल को लाल या पीले रंग के कपड़े में लपेटकर तिजोरी में रख दें। इस उपाय को करने से आय में वृद्धि होने लगती है। गुरुवार के दिन स्नान-ध्यान करने के बाद विधि विधान से भगवान विष्णु की पूजा करें। इस समय केसर मिश्रित दूध से भगवान विष्णु का अभिषेक करें। इस उपाय को करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं। उनकी कृपा से धन संबंधी परेशानी दूर हो जाती है।

Read More: सीएम साय ने दी प्रदेशवासियों को नए साल की बधाई, कही ये बात

अगर आप अपने करियर या कारोबार को नया आयाम देना चाहते हैं, तो गुरुवार के दिन निकटतम लक्ष्मी नारायण मंदिर जाकर भगवान विष्णु की पूजा करें। इस समय 7 हल्दी की गांठ धन की देवी मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु को अर्पित करें। इस उपाय को करने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है।

Read More: सीएम साय ने दी प्रदेशवासियों को नए साल की बधाई, कही ये बात

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here