शिक्षादूत और ज्ञानदीप पुरस्कार से 18 शिक्षक हुए सम्मानित, मंत्री टंक राम ने कहा- संस्कृति और संस्कार बचाने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी शिक्षकों पर

0
7

बलौदाबाजार: मुख्यमंत्री शिक्षा गौरव अलंकरण योजना अंतर्गत जिला बलौदाबाजार भाटापारा के प्राथमिक, उच्च प्राथमिक शालाओं के शिक्षकों का सम्मान शिक्षादूत और ज्ञानदीप पुरस्कार समारोह का आयोजन जिला मुख्यालय स्थित मांगलिक भवन सिविल लाईन में किया गया. इसमें नवाचारी रचनात्मक प्रयोग के लिए जिले के 18 शिक्षकों को शिक्षादूत और ज्ञानदीप पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इसमें शिक्षादूत के लिए 15 और ज्ञानदीप के 3 शिक्षक शामिल हैं. इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में कैबिनेट मंत्री टंक राम वर्मा, विशिष्ट अतिथि नगर पालिका परिषद अध्यक्ष चित्तावर जायसवाल, पूर्व अध्यक्ष नंदकुमार साहू, समाज सेवी विजय केसरवानी, नरेश केसरवानी, शिक्षाविद् खोडस कश्यप उपस्थित रहे

मंत्री टंक राम वर्मा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि संस्कृति और संस्कार बचाने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आज शिक्षकों पर है. राष्ट्र निर्माण में शिक्षकों की भूमिका और योगदान को रेखांकित किया. उन्होंने कहा, हम जिस भीं पद में रहे हमें अपना पूरी लगन और मेहनत से करना चाहिए. हमारे काम से किसी एक भी व्यक्ति के चेहरे में मुस्कान आ जाए तो वही धर्म है और यदि हमारे काम से किसी व्यक्ति के आंखों में आसूं आ जाएं तो वह अधर्म है.

मंत्री वर्मा ने आगे इस पुरस्कार के प्रारंभ होने के संबध में जानकारी देते हुए कहा कि, इस पुरस्कार को शुरु करने में तत्कालीन शिक्षा मंत्री केदार कश्यप का महत्वपूर्ण भूमिका रही. उन्होने सभी के आग्रह पर भजन भी सुनाया. इस दाैरान विजय केसरवानी चित्तावर जायसवाल, पूर्व अध्यक्ष नंदकुमार साहू ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया. शिक्षादूत के लिए सम्मानित शिक्षकों को 5 हजार प्रोत्साहन राशि सहित प्रतीक चिन्ह, श्रीफल ओर साल भेंट की गई है.

इसी तरह ज्ञानदीप के लिए सम्मानित शिक्षकों को 7 हजार प्रोत्साहन राशि सहित प्रतीक चिन्ह, श्रीफल और साल मुख्यतिथि की ओर से भेंट की गई हैं. सम्मानित शिक्षकों में सहायक शिक्षक एलबी शासकीय प्राथमिक शाला रवान शालिनी कश्यप, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ. शाला डोटोपार सीमा जायसवाल, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ. शाला भालूकोना विजय सिंह पैकरा, प्रधानपाठक शास. प्राथ. शाला मौहाभाठा भुनेश्वर प्रसाद चन्द्रा, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ. शाला गिरौदपुरी तेजनाथ साहू, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ शाला बैगनडबरी सुनीता जायसवाल, सहायक शिक्षक शास. प्राथ. शाला छडिया घनश्याम प्रसाद वर्मा, सहायक शिक्षक शास. प्राथ. शाला कानाकोट संध्या पैकरा, सहायक शिक्षक शास. प्राथ. शाला बिनौरी थानसेन कुरें, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ. शाला सूमा क्षिप्रा अग्रवाल, सहा. शिक्षक एलवी शास. प्राथ. शाला टिकुलिया मेघा वर्मा, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ. शाला अमलीडीह पीयूष रामपुरीक, प्रधानपाठक शास. प्राथ. शाला बिनेका प्रणिता वर्मा, सहा. शिक्षक एलबी शास. प्राथ. शाला नेवधा संजू राम निर्मलकर, प्रधानपाठक शास. प्राथ. शाला हरिनभट्ठा परमानंद साहू शामिल है.

इसी तरह ज्ञानदीप से सम्मानित हुए शिक्षकों में शिक्षक एलबी शा. पूर्व मा.शाला बगबुड़ा कुसुम बागड़े, शिक्षक एलबी शा. नवीन पूर्व मा.शाला मिरगी हेम कुमार देवांगन, शिक्षक एलबी शा.पूर्व मा.शाला बैगनडबरी रमाशंकर साहू शामिल हैं. इस दौरान जिला शिक्षा अधिकारी बीएल देवांगन, जिला मिशन समन्वयक एमएल ब्राम्हणी, सहायक संचालक केएस मेरावी, बीआर पटेल, केके गुप्ता, सहायक कार्यक्रम समन्वयक मनहरण लाल साहू, जहीर अब्बास, खिलावन वर्मा और अरूण वर्मा सहित शिक्षा विभाग के सभी अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here