CG News : दिल्ली में ज्वेलरी शोरूम से 25 करोड़ की चोरी के मामले में छत्तीसगढ़ से 2 आरोपी को किया गिरफ्तार, कमरे में फैला रखा था सोने का ढेर

0
15

भिलाई। Bhilai Crime News: दिल्ली के जंगपुरा के ज्‍लेवरी शोरूम में हुई 25 करोड़ की चोरी का छत्‍तीसगढ़ कनेक्‍शन निकला है। चोरी की वारदात को अंजाम देने के बाद शातिर चोर छत्‍तीसगढ़ में छुपे हुए थे। दिल्ली पुलिस ने दुर्ग पुलिस और बिलासपुर पुलिस की मदद से आरोपित लोकेश श्रीवास को भिलाई से पकड़ लिया है।आरोपित के पास से 18 किलो सोना जब्‍त किया गया है, जिसकी कीमत लगभग 15 करोड़ रुपये बताई जा रही है। एक दिन पहले बिलासपुर पुलिस ने लोकेश के दूसरे साथी शिवा चंद्रवंशी को कवर्धा से गिरफ्तार किया है।

दरअसल, दिल्‍ली के जंगपुरा में एक ज्‍वेलरी शोरूम में रविवार को 25 करोड़ की चोरी हुई थी। चोर छत को काटकर शोरूम में घुसे। इसके बाद शोरूम में रखी 25 करोड़ की हीरे और सोने के गहनों पर हाथ साफ कर दिया।

दिल्‍ली पुलिस ने दुर्ग और बिलासपुर पुलिस की निशानदेही पर जगह-जगह छापेमारी की। इसी दौरान पुलिस ने भिलाई के स्मृति नगर के एक मकान से चोरी की वारदात में शामिल शातिर लोकेश को धरदबोचा। लोकेश यहां किराए से रह रहा था। पुलिस ने लोकेश के पास से 18 किलो सोना के अलावा नगद और अन्य जेवरात भी बरामद किया है।

 

जानकारी के अनुसार, चोरी का यह संपूर्ण माल दिल्ली में हुई चोरी का बताया जा रहा है। लोकेश की बिलासपुर और राजनांदगांव पुलिस को भी तलाश थी। इसके पूर्व भी लोकेश को दुर्ग पुलिस ने आकाशगंगा में पारख ज्वेलर्स में हुई चोरी के मामले में शत-प्रतिशत माल के साथ गिरफ्तार किया था। दुर्ग पुलिस आरोपित से मामले की पूछताछ कर रही है।

Read more :Aaj Ka Rashifal : भगवान गणेश जी की कृपा से आज चमकेगी इन पांच राशि वालों की किस्मत, पढ़ें दैनिक राशिफल 

एक दिन पहले चोरी में शामिल दूसरा साथी कवर्धा से गिरफ्तार

दिल्ली के जंगपुरा के ज्‍लेवरी शोरूम में हुई चोरी मामले में एक दिन पहले बिलासपुर पुलिस ने लोकेश के दूसरे साथी शिवा चंद्रवंशी को कवर्धा से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शिवा चंद्रवंशी के पास से ज्वेलरी सहित कुल 23 लाख का चोरी का सामान जब्‍त किया है। पुलिस ने जब शिवा को पकड़ने पहुंची तो वहां मौजूद लोकेश खिड़की से कूदकर भाग निकला था। जिसे दुर्ग पुलिस ने भिलाई के स्मृति नगर से गिरफ्तार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here