Chhattisgarh : छत्तीसगढ़ी पर्व सम्मान निधि योजना की पहली किश्त जारी, सीएम भूपेश बोले-अपनी संस्कृति पर गौरव का अनुभव करें लोग…

0
42
Chhattisgarh : गौठानों में पशुओं के लिए चारा, पानी और छाया की व्यवस्था
Chhattisgarh : गौठानों में पशुओं के लिए चारा, पानी और छाया की व्यवस्था

Chhattisgarh : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम मे गैर-अनुसूचित क्षेत्रों के लिए मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ी पर्व सम्मान निधि योजना की शुरुआत की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने पहली किश्त के रूप में आज योजना के अंतर्गत आने वाली सभी 6 हजार 111 ग्राम पंचायतों को 05-05 हजार रुपए के मान से कुल 03 करोड़ 05 लाख 55 हजार रुपए की राशि जारी की। इसके साथ-साथ मुख्यमंत्री आदिवासी परव सम्मान निधि के अंतर्गत अनुसूचित क्षेत्र के 14 जिलों की 03 हजार 793 ग्राम पंचायतों को 5-5 हजार रुपए के मान से कुल 01 करोड़ 89 लाख 65 हजार रुपए की राशि जारी की गई है। बता दें कि यह योजना 61 विकासखंड सामुदायिक क्षेत्रों की 6 हजार 111 ग्राम पंचायतों में लागू होगी। इस योजना की इकाई ग्राम पंचायत होंगी। तीज-त्यौहार मनाने के लिए इस योजना में भी हर ग्राम पंचायत को दो किश्तों में 10-10 हजार रुपए की राशि दी जाएगी।

Chhattisgarh : संस्कृति और परंपराओं के संरक्षण का काम अत्यंत महत्वपूर्ण

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) विकास में यहां की संस्कृति और परंपराओं के संरक्षण का काम अत्यंत महत्वपूर्ण है। राज्य में तीजा, हरेली, भक्तिन महतारी कर्मा जयंती, मां शाकंभरी जयंती (छेरछेरा), छठ और विश्व आदिवासी दिवस जैसे पर्वाे पर सार्वजनिक अवकाश दिया जा रहा है। राज्य शासन की यह भावना है कि तीज-त्यौहारों के माध्यम से नई पीढ़ी अपने पारंपरिक मूल्यों से संस्कारित हो और अपनी संस्कृति पर गौरव का अनुभव करे।

Chhattisgarh : राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव, युवा महोत्सव

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में छत्तीसगढ़िया ओलंपिक, बासी – तिहार जैसे आयोजनों के पीछे भी हमारा यही उद्देश्य है। लोक-संस्कृति के संरक्षण और संवर्धन के उद्देश्य से ही देवगुड़ियाँ और घोटुलों के विकास का काम भी किया जा रहा है। गौरतलब है कि सीएम भूपेश ने 13 अप्रैल को बस्तर में आयोजित भरोसा सम्मेलन में मुख्यमंत्री आदिवासी परब सम्मान निधि योजना का शुभारंभ करते हुए बस्तर संभाग की 1840 ग्राम पंचायतों को योजना की पहली किश्त के रूप में 5-5 हजार रुपए के मान से अनुदान राशि जारी की थी।

यह भी पढ़ें : Naxal Attack : बीजापुर में नक्सलियों के आईईडी ब्लास्ट को डिफ्यूज करते समय एक जवान घायल…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here