जम्मू कश्मीर में हेलिकॉप्टर ध्रुव क्रैश होने के बाद सेना ने लिया फैसला, अब एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर के संचालन पर लगाई रोक

0
61

जम्मू। 4 मई को एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर के क्रैश होने के बाद अब इसके संचालन को रोक दिया गया है। दरअसल जम्‍मू कश्‍मीर के किश्‍तवाड़ जिले में गुरुवार को एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर ध्रुव क्रैश हो गया था, जिसमें एक जवान शहीद हो गया था। जानकारी के अनुसार सेना ने इसे एहतियात के तौर पर संचालन के लिए रोक दिया है। जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ जिले के दूर दराज इलाके मड़वा के मचना जंगलों में सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हुआ था। तकनीकी खराबी के चलते इमरजेंसी लैंडिंग के दौरान सेना का ये हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया था। हेलीकॉप्टर क्रैश होने से पहले पायलट और को-पायलट ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (एटीसी) को तकनीकी खराबी की सूचना दी थी और फिर इमरजेंसी लैंडिंग की कोशिश की गई।

दरअसल, पायलट ने हेलिकॉप्टर को मारुआ नदी के किनारे पर लैंड करवाने की कोशिश की थी लेकिन सफल नहीं रहा और एक बड़ा हादसा हो गया। हेलिकॉप्टर में पायलट, को-पायलट के साथ-साथ एक टेक्नीशियन मौजूद था। बता दें कि एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर भारतीय तटरक्षक बल के साथ सेना, नौसेना और वायु सेना सहित तीनों रक्षा बलों द्वारा संचालित किया जाता है। इससे पहले मुंबई में हुए हादसे के बाद भारतीय सेना एडवांस्ड लाइट हेलिकॉप्टर ध्रुव हेलिकॉप्टर की तरफ से इसके संचालन पर रोक लगा दी गई थी। इसके साथ ही घटना के कारणों की जांच की जा रही थी। एक सूत्र ने बताया कि जांच प्रक्रिया में जिन हेलिकॉप्टरों को मंजूरी दी गई है, वे अब उड़ान भर रहे हैं। भारतीय वायु सेना लगभग 70 एएलएच ध्रुव का संचालन करती है।

गौरतबल है कि केरल के कोचीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास इंडियन कोस्ट गार्ड के एडवांस लाइट हेलिकॉप्टर ध्रुव मार्क 3 हेलिकॉप्टर की टेस्ट उड़ान की इमरजेंसी लैंडिंग करवाई गई थी। लैंडिग के समय हेलिकॉप्टर 25 फीट की ऊंचाई पर उड़ रहा था। यह घटना दोपहर 12.30 बजे हुई थी। इस घटना से बड़ा हादसा होते-होते बचा था। हालांकि एक ट्रेनी का हाथ फ्रैक्चर हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here