Kanker Naxal Encounter : चुनाव से पहले पुलिस और माओवादियों के बीच मुठभेड़, जवानों ने किया कैंप को ध्वस्त, कई नक्‍सली घायल

0
12
Kanker Naxal Encounter

कांकेरः Kanker Naxal Encounter छत्‍तीसगढ़ के कांकेर जिले के अंतागढ़ इलाके में डीआरजी, बीएसएफ टीम और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई। जवानों ने नक्सली कैंप को ध्वस्त कर दिया। जवानों ने इस मुठभेड़ में कुछ नक्सलियों के घायल होने का दावा किया है। पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल ने मुठभेड़ की पुष्टि की है। दरअसल, डीआरजी और बीएसएफ की संयुक्त टीम तड़के सुबह अंतागढ़ इलाके में सर्चिंग पर निकली थी। इसी दौरान जवानों और नक्‍सलियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई। जवानों का दावा है कि इस मुठभेड़ में गोली लगने से कई नक्‍सली घायल हो गए।

पीएम मोदी की सभा से पहले तीन ग्रामीणों की हत्या

Kanker Naxal Encounter बतादें कि तीन दिन पहले गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में चुनावी सभा के पहले नक्सलियों ने छोटेबेठिया थाना क्षेत्र के ग्राम मोरखंडी के तीन ग्रामीणों की हत्या कर दी थी। नक्सलियों ने उन पर पुलिस की मुखबिरी करने का आरोप लगाते हुए जन अदालत में मौत की सजा सुनाई और गला रेत दिया था। कांकेर जिले का छोटेबेठिया थाना क्षेत्र महाराष्ट्र के गढ़चिरौली जिले से सटा हुआ है।

माना जा रहा है कि चुनावी माहौल में दहशत फैलाने के लिए नक्सलियों ने इस वारदात को अंजाम दिया। बता दें कि कांकेर समेत बस्तर संभाग के सभी जिले में प्रथम चरण के अंतर्गत सात नवंबर को विधानसभा चुनाव को लेकर मतदान होना है। वहीं ग्रामीण तीनों शवों को ट्रैक्टर ट्राली में लेकर बेठिया थाने में पहुंचे। इस नक्सली वारदात के बाद सुरक्षा बलों ने जांच अभियान तेज कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here